दीदी की ननद की चूत फाड़ी

0
Loading...

प्रेषक : सर्वेश

हैल्लो दोस्तों, मै कामुकता डॉट कॉम बहुत ही बड़ा फेन हूँ और मै डेली इसकी कहानियां पढ़ता हूँ और मुठ मारता हूँ, मै अब सबसे पहले अपने बारे मे बताता हूँ, मै पांच फिट दस इंच और सामान्य बॉडी का मालिक हूँ और ये मेरी पहली कहानी है, जब मैने इस की कहानियां पढ़ी तो मैने भी सोचा कि क्यों ना में अपनी भी कहानी आप सभी के सामने रखूं और मैंने ये कहानी आप लोगो के सामने रखी है। अगर इसमे कोई भी गलती हो प्लीज मुझे आप सभी माफ़ करना।

अब मै सीधे स्टोरी पर आता हूँ। दोस्तों मेरा नाम सर्वेश है और मै मेडिकल का स्टूडेंट हूँ। ये कहानी तब की है, जब में बीस साल का था और मै अपनी स्टडी के लिए अपनी दीदी के घर पटना में रहता था। मै आपको बता दूँ कि मेरी दीदी की शादी पटना में हुई है और उसके घर में पांच लोग रहते है और दीदी की एक ननद है, जिसका नाम प्रिया है और वो दिखने मै बहुत ही मस्त है, वो एकदम गौरी और दिखने मै स्मार्ट है।

अपनी पढ़ाई के लिए में अपनी दीदी के घर पर ही रहता था। में हमेशा शुरू से सेक्स के प्रति बहुत ज्यादा ही उत्सुक था और में हमेशा ही सेक्स कि कहानियों की किताब पढ़ता रहता था और मुठ मारता रहता था। जब मैने पहली बार दीदी की ननद को देखा तो मै उसे चोदने की सोचता था। लेकिन मै बहुत डरता था क्योंकि प्रिया केवल 19 साल की थी, लेकिन वो दिखने में वो किसी 22 साल से कम नहीं लगती थी। अब एक दिन की बात है, प्रिया अपने कमरे मे थी, मैने उसे आवाज़ लगाई तो उसने कोई जबाब नहीं दिया, तो मै उसके कमरे मैं चला गया। अब मैंने देखा कमरा अंदर से बंद था, तभी में एक होल से झाँका तो देखा कि वो एकदम न्यूड थी। शायद वो अपने कपड़े चेंज कर रही थी और में उसे न्यूड देखकर पागल सा हो गया था, क्योंकि मैने लाईफ मै पहली बार किसी लड़की को न्यूड देखा था। क्या बूब्स थे उसके, एकदम दूध की तरह गौरे और बहुत ही बड़े – बड़े और उसकी चूत एकदम साफ दिख रही थी। अब में तो देखकर एकदम पागल ही हो रहा था और में जल्दी से बाथरूम भागा और जल्दी से वहाँ पर मुठ मारने लगा, उसके बाद तो में हमेशा की तरह उसे चोदने कि सोचता रहा और मै हमेशा ही उससे मज़ाक करता रहता था। लेकिन मैने कभी भी उसके शरीर को छुआ तक नहीं था। अब एक दिन की बात है, में उसके रूम में गया था तो वहाँ पर वो अपनी पड़ाई कर रही थी, तभी मैने उसे बोला कि क्या तुम मेरा सर दबा सकती हो मुझे बहुत दर्द हो रहा है।

अब उसने पहले सोचा, फिर कहा ठीक है और फिर मैं बेड पर लेट गया था और वो मेरा सर दबाने लगी। तभी कुछ देर के बाद मैने उसको बोला की मै तुमसे एक बात कहना चाहता हूँ, तभी उसने कहा ठीक है बताइए, लेकिन तुम मुझसे गुस्सा तो नहीं हो जाओगी, तभी उसने कहा कि नहीं। अब मैने मौका देखकर उसका हाथ पकड़ कर बोला कि मै तुमसे बहुत प्यार करता हूँ। तभी वो चुपचाप हो गई, मैने पूछा कि क्या हुआ तो उसने बोला की प्यार तो मै भी आपसे बहुत करती हूँ। लेकिन मुझे बहुत डर लगता है की अगर घर में किसी को पता चला तो मुझे बहुत मार पड़ेगी। अब मैने कहा हम किसी को नहीं बताएँगे और ऐसा कोई काम भी नहीं करेंगे जिससे किसी को पता चलेगा, अब उसने कहा यह ठीक है।

अब उस दिन के बाद हमारे उसी प्यार का सिलसिला चलता रहा, लेकिन इससे ज़्यादा कुछ नहीं हुआ, उसी बीच हमारे पेपर नज़दीक आ गए और हम दोनो ने डिसाईड किया की, क्यों ना साथ में ही स्टडी कि जाए। अब उसने कहा की ठीक है। इसके लिए मैने अपनी दीदी को बताया की हम लोग देर रात एक साथ अपने कमरे में स्टडी करेंगे, तभी दीदी ने कहा की ठीक है। लेकिन तुम सोते टाइम अपने अपने कमरे मे चले जाना, अब मैने कहा कि ठीक है। अब अगली रात से हम दोनों ने साथ में स्टडी शुरू कर दी और अब मै घर मे बाकी सभी लोगो के सोने का इंतजार करने लगा और जैसे ही सभी लोग सो गए हमने पढ़ाई स्टॉप की और में बात करने लगा। अब वो बहुत खुश थी और अब मैने बात करते करते उसे किस कर लिया और उसने मुहं घुमा लिया और मना करने लगी। तभी मैने कहा कि क्या मै तुम्हे किस भी नहीं कर सकता हूँ और तभी उसने कहा की ये ज़रूरी है क्या? मैने कहा कि हाँ मुझे कैसे विश्वास होगा की तुम भी मुझसे प्यार करती हो और तभी उसने कहा की ठीक है और इसी तरह रोज का सिलसिला चलता रहा।

लेकिन अब मेरी इससे ज्यादा करने की हिम्मत ना हुई थी। अब एक रात वो स्टडी करते करते वहाँ पर ही सो गई और मै जगा हुआ था, तो मै भी धीरे से उसके पास में सो गया। अब कुछ देर के बाद मैने उसके गालो को सहलाना शुरू कर दिया और वो थोड़ा सी हिली और फिर से सो गई, अब इसी तरह फिर मैने उसको किस किया और अपनी बाँहों में भर लिया और फिर धीरे से मैने एक हाथ उसके बूब्स पर रख दिए और फिर धीरे धीरे दबाने लगा था। लेकिन वो गहरी नींद में थी।

अब मैने थोड़ा और जोर से दबाया, तभी वो जाग गई और उठकर बैठ गई और बोली की आप ये क्या कर रहे हो, तभी मैने कहा कि मै प्यार कर रहा हूँ, तभी वो गुस्सा हो गई और बोली की ये ग़लत बात है। अब में आपसे कभी भी बात नहीं करूँगी। तभी मैने कहा कि प्लीज गुस्सा ना करो मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूँ और तभी उसने कहा कि प्यार मे ये सब तो ठीक नहीं है। मैने कहा कि आप मुझे बहुत अच्छी लगती हो तो प्लीज़ एक बार, तभी उसने मना कर दिया। अब मैने उससे सॉरी बोला और जाकर अपने कमरे में सो गया, अब उसके बाद मैने उससे बात करना बंद कर दिया और उसने भी मुझसे दो दिन तक बात नहीं की, अब उसके बाद वो एक दिन मेरे कमरे में आई और बॉली की आप मुझसे गुस्सा हो क्या? अब मैने कुछ नहीं बोला और तभी वो मेरे पास आई और उसने मेरे सर पर किस कर लिया और तभी मैने अपना मुहं घुमा लिया, अब वो बोली कि क्या बात है, अब उसने कहा कि में भी आपसे बहुत प्यार करती हूँ। लेकिन ये सब मुझे अच्छा नहीं लगता और तभी मैने बोला की क्या तुम मुझे एक बार करने नहीं दोगी? तो वो बिलकुल चुप हो गई, तभी कुछ देर के बाद बोली कि ठीक है। लेकिन बस आप मुझे सिर्फ़ छुओगे और बाकि कुछ नहीं करोगे, तभी मैने कहा की ठीक है और में अब बहुत खुश हो गया था और उसे किस करने लगा था

Loading...

अब वो मुझसे थोड़ी दूर हो गई थी और बोली कि ये सब अभी नहीं रात मे, जब सब सो जाएँगे तब और तभी मैने कहा की ठीक है और अब मै रात होने का इंतज़ार करने लगा था। अब रात में वो जब मेरे कमरे में स्टडी करने आई और स्टडी करने लगी, अब घर मै सभी लोग सो गए थे और तभी मैने अपनी स्टडी स्टॉप की और उसे किस करना शुरू कर दिया था और मैं पागलो की तरह उसे किस करने लगा और उसके होंठो को चूसने लगा और अब धीरे से मैने अपना एक हाथ उसके बूब्स पर रख दिया और उसे दबाने लगा, अब मेरा लंड तो एकदम खड़ा हो गया  और में बहुत ज्यादा ही गर्म हो गया था और ज़ोर ज़ोर से उसके बूब्स को प्रेस करने लगा तो वो चिल्लाई और कहने लगी की मुझे बहुत दर्द हो रहा है।

तो मैने कुछ नहीं सुना और ज़ोर-ज़ोर से बूब्स को दबाता रहा और उसको किस करता रहा और अब वो भी धीरे धीरे गर्म हो गई थी और अब मेरा साथ देने लगी थी। अब मैने उसकी टी-शर्ट को उतार दिया और अब उसके बाद तो में पागल सा हो गया उसके बूब्स को देखकर। क्या मस्त बूब्स थे, बिलकुल गोल बड़े गोरे – गोरे पिंक निप्पल, अब बूब्स को देखते ही मुझे उन्हें चूसने कि इच्छा हुई की अभी पकड़ कर चूस लूँ। उसने पिंक कलर कि ब्रा पहनी हुई थी। में ऊपर से ही उसे जोर जोर से दबाने लगा और चूसने लगा और तभी मैने उसकी ब्रा को पकड़ कर खींचा और ब्रा का हुक तोड़ दिया, ओह मै तो पागल कि तरह उसके बूब्स पर टूट पड़ा और बूब्स को चूसने लगा।

अब वो धीरे धीरे पुरी गर्म हो चुकी थी और आहें भर रही थी। अब मैने करीब दस मिनट तक उसके बूब्स को चूसा और फिर अपना एक हाथ उसकी चूत पर रख दिया और धीरे-धीरे चूत को सहलाने लगा था और वो भी पागलो कि तरह आहें भरे जा रही थी और अब वो पूरी तरह गर्म हो चुकी थी। अब मैने उसकी जिन्स के बटन को खोल कर अलग कर दिया था। तभी मैने देखा कि वो ब्लेक कलर कि पेंटी पहनी हुई थी, जैसे ही मैने उसकी चूत पर हाथ रखा तो मुझे थोड़ा गीलापन महसूस हुआ, अब उसकी पेंटी पूरी तरह गीली हो चुकी थी और वो कामुक हो कर मुझे देख रही थी और फिर मैने एक ही झटके में उसके पेंटी को अलग कर दिया और में भी चूत को देख कर कामुक हो गया था।

क्या चूत थी उसकी पूरी क्लीन शेव फूली हुई एक दम लाल, में तो कामुक ही हो गया था और अब में उसकी चूत को सहलाने लगा था। अब वो आहें भर रही थी और अब मैने उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया, तभी उसने कहा कि ये आप क्या कर रहे हो, तभी मैने कहा की मस्ती कर रहा हूँ। अब तुम्हे भी मज़ा आएगा, अब मैने पांच मिनट तक उसकी चूत को चाटा क्या मस्त चूत थी उसकी और फिर मैं खड़ा हो गया और मैने अपने कपड़े भी उतार दिये। अब वो भी मेरा लंड देख कर डर गई और कहने लगी कि इतना बड़ा लंड, अब मैने उससे कहा तुम इसे अपने हाथ में लो तभी उसने मना कर दिया। अब मैने उसकी चूत मे अपनी उंगली डाली उसकी चूत एकदम टाइट थी और जैसे ही मैने अपनी एक उंगली डाली वो उछल पड़ी थी और कहने लगी की मुझे बहुत दर्द हो रहा है। अब मैने उसे कहा कि तुम चुपचाप रहो और मजे लो तुम्हे कुछ नहीं होगा। अब मैने अपना लंड उसकी चूत पर टिकाया और अंदर घुसाने लगा, लेकिन चूत टाईट होने कि वजह से लंड घुस ही नहीं रही था, अब मैने थोड़ा सा कोल्ड क्रीम अपने लंड पर लगाया और फिर थोड़ा उसकी चूत पर भी लगाया और अब मैने धीरे से अपने लंड को चूत पर रखकर हल्का सा धक्का दिया और तभी वो बहुत जोर से चिल्ला उठी और रोने लगी थी और कहने लगी की प्लीज मुझे छोड़ दो मुझे बहुत दर्द हो रहा है।

अब मैने बोला की कुछ नहीं होगा जानेमन अभी कुछ देर बाद तुम्हे भी बहुत मज़ा आएगा और फिर में उसे किस करने लगा और कुछ देर के बाद मैने एक जोरदार धक्का लगाया था और मेरा लंड आधा उसकी चूत मे चला गया था और उसके चूत से खून निकलने लगा और वो चिल्ला रही थी प्लीज छोड़ दो, में मर जाउंगी, तभी मैने उसके मुहं पर अपने मुहं को लगाया और ज़ोर ज़ोर से उसे किस करने लगा।

Loading...

जिससे उसके मुहं से आवाज़ नहीं निकले अब मैने एक ओर जोर का धक्का दिया और अब मेरा पूरा लंड उसकी चूत में समा गया था और वो दर्द से छटपटा रही थी, कह रही थी छोड़ दो प्लीज, अब में भी कुछ देर के लिए उसी तरह शांत रहा और किस करता रहा और जब वो शांत हुई, तभी मैने धीरे धीरे धक्के लगाने शुरू कर दिए और में अपने एक हाथ से उसके बूब्स को दबाने लगा। अब उसे भी दर्द कम हो रहा था और अब उसे भी मज़ा आने लगा था, अब कुछ देर के बाद वो भी मेरा पूरा पूरा साथ देने लगी। तभी मैने कुछ देर बाद अपनी रफ़्तार बड़ा दी और वो भी अपनी चूतड़ को हिलाने लगी और आईईइ मर गईईई, में चोदो और जोर से चोदो मुझे फाड़ दो आज मेरी चूत को वो कहने लगी। अब मैने उसे पूछा क्यों मज़ा आ रहा है ना, तभी उसने कहा कि हाँ अब मुझे बहुत मजा आ रहा है चोदो और जोर से, अब करीब दस मिनट कि चुदाई के बाद उसने मुझे जोर से पकड़ लिया और कहने लगी रुको मत चोदो मुझे ज़ोर से, तभी मैने फिर अपनी रफ़्तार बड़ा दी और करीब पांच मिनट के बाद में झड़ने वाला था और तभी मैने कहा कि में अब झड़ने वाला हूँ और तभी उसने भी कहा कि में भी अब झड़ने वाली हूँ। अब वो कुछ देर के बाद शांत हो गई वो झड़ गई, अब में भी झड़ने वाला था तभी मैने अपना लंड चूत से बाहर निकाला और बेड पर पूरा वीर्य गिरा दिया। अब उसने मेरे लंड को मुहं मे लिया और चूसने लगी, चूस चूस कर उसने पूरे लंड को साफ कर दिया था। अब वो बहुत खुश दिख रही थी, तभी मैने उससे पूछा क्या तुम्हे मज़ा नहीं आया, अब उसने कहा की मुझे आज पहली बार चुदाई में दर्द के साथ बहुत मज़ा आया, आज से पहले मैने कभी भी चूत में लंड नहीं लिया था में बहुत डरती हूँ लंड लेने से लेकिन आज तुमने वो डर भी खत्म कर दिया अब तुम जब कहोगे में मना नहीं करूंगी चुदाई के लिये।

लेकिन फिर जैसे ही वो बेड से उठी तो उसने बेड पर ढेर सारा खून देख कर वो डर गई और कहने लगी कि अब क्या होगा और अब वो ठीक से खड़ी भी नहीं हो पा रही थी। तभी मैने कहा कि मैं तुम्हे तुम्हारे कमरे तक छोड़ देता हूँ और तुम सुबह देर तक सोती रहना अगर तुम्हारा दर्द ठीक नहीं हुआ तो, अगर कोई तुमसे पूछे तो बता देना कि तुम्हारी तबीयत खराब है। में सुबह तुम्हे दर्द की दावा लाकर दे दूँगा और फिर तुम बिलकुल ठीक हो जाओगी। अब मैने उसे सहारा दिया और उसे उसके कमरे में लेकर गया था।

अब वो ठीक से चल भी नहीं पा रही थी और अब मैने उससे बेड पर लिटा दिया और मैने उसके सर पर किस किया और उसे गुड नाईट बोला और अपने कमरे में आकर सो गया।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


hindi sex story in hindi languagehindi new sex storymaa ke sath suhagratsexy stoy in hindisexey stories comnind ki goli dekar chodasexy new hindi storysagi bahan ki chudaisexy hindy storiessex hindi sitorysaxy story hindi msexi storeysex kahaniya in hindi fontwww hindi sex kahanidownload sex story in hindianter bhasna comindian sex stories in hindi fontshindi sexi kahanisex stores hindi comhindi sax storeindian sax storysexy story hindi comhindi sex story hindi mehindi history sexhindi sexy stores in hindistore hindi sexsex sex story hindihindi sexy stoeynew hindi sex storyhendi sexy storyhindi sex story hindi sex storysex hindi story downloadnew hindi sexy storiehindhi sexy kahanisexy hindi font storieshendi sexy storyhinde sax khanisamdhi samdhan ki chudaikamukta comhindi sex story read in hindiindian sax storieslatest new hindi sexy storybua ki ladkisexi kahani hindi mekamuktasex store hendesexy stori in hindi fonthindi sex kahani hindi mehindi sex story audio comsex hindi story comsexy new hindi storywww sex story hindimosi ko chodasagi bahan ki chudaihindi storey sexysexsi stori in hindihindi kahania sexsexey storeysex story in hindi downloadnew hindi sexy story comhindi sexy storeyhindi sexi stroymami ne muth marifree hindisex storieshindi sexy story onlinehindi sexy storehinde sex storesexy story hundisexy story hindi mindian sex stories in hindi fontwww hindi sex store comindian sax storiessexy stori in hindi fontsexstores hindihindi sexy storyisex story read in hindisex hindi sitoryhindi sexy storieahindisex storiydownload sex story in hindiindiansexstories consexy stoies hindi